Saturday, June 15, 2024

Weather हे राम ! 50.3 डिग्री पहुंचा पारा, गर्मी से हर कोई बेहाल; केरल जल्द पहुंचेगा मानसून

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Khabarwala 24 News New Delhi: Weather उत्तर भारत समेत दिल्ली में भीषण गर्मी का दौर जारी है। प्रचंड गर्मी के बीच भारत के कई शहरों का पारा पचास डिग्री के पार पहुंच गया है या ५० डिग्री सेल्सियस के नजदीक पहुंच गया। हरियाणा के सिरसा में 50.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ है।

बारिश ने बाद बढ़ी उमस (Weather)

हालांकि दिल्ली में बुधवार शाम मौसम ने पलटी मारी तो सूरज देवता अचानक बादलों के पीछे छिप गए और बारिश होने लगी तो गर्मी की मार से बेहाल लोगों के कलेजे को ठंडक मिली। हालांकि बारिश ने बाद में उमस बढ़ाने का काम किया। मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, दिल्ली समेत आधे भारत में अगले कुछ दिनों तक लू की स्थिति बनी रहने की उम्मीद है।

लू चलेगी और तपेगा देश (Weather)

मौसम विभाग ने लोगों से लू के कारण संवेदनशील लोगों के लिए अत्यधिक सावधानी बरतने का आग्रह किया है। बढ़ते तापमान के कारण, हर उम्र के लोगों को गर्मी से संबंधित बीमारी होने और लू लगने की बहुत अधिक संभावना होती है। शिशुओं, बुजुर्गों और गंभीर बीमारियों वाले व्यक्तियों के लिए यह स्वास्थ्य संबंधी बड़ी चिंता का विषय है।

आईएमडी ने लोगों को गर्मी और निर्जलीकरण से बचने की सलाह दी है। IMD ने अपने मौसम पूर्वानुमान की चेतावनी में कहा कि दिल्ली के अधिकतर हिस्सों में गंभीर लू की स्थिति बनी रहेगी।

कैसा रहेगा दिल्ली-एनसीआर के मौसम का हाल (Weather)

दिल्ली के प्राथमिक मौसम विज्ञान केंद्र सफदरजंग वेधशाला में बुधवार को अधिकतम तापमान 46.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 79 वर्षों में सबसे अधिक रहा। मौसम विभाग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले जून 1945 में राजधानी दिल्ली का अधिकतम तापमान 46.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

दिल्ली में बुधवार को सफदरजंग वेधशाला में 46.8 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो इस मौसम के औसत तापमान से छह डिग्री अधिक था। दिल्ली के प्राथमिक मौसम विज्ञान केंद्र सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान 46.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 79 वर्षों में सबसे अधिक है।

यहां बारिश की संभावना (Weather)

पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड एवं ओडिशा की स्थिति गंभीर बनी हुई है। आइएमडी का कहना है कि एनसीआर में छिटपुट वर्षा के बावजूद उत्तर-पश्चिम भारत को बहुत राहत नहीं मिलने जा रही।

पाकिस्तान में बन रहे पश्चिमी विक्षोभ के कारण गुरुवार से शुक्रवार के बीच दिल्ली समेत जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में वर्षा की स्थिति बन रही है, लेकिन इसका असर खत्म होते ही तापमान फिर कुछ ऊपर चढ़ सकता है।

क्यों बढ़ रहा तापमान (Weather)

दो दिन पहले तक दिल्ली में पूर्व से नमी वाली हवा आ रही थी, जिसमें तापमान 40-42 डिग्री होने के बावजूद 50 डिग्री सेल्सियस वाली गर्मी का अनुभव हो रहा था। कतु हवा की दिशा बदली और पश्चिम से पूर्व की ओर चलने लगी तो राजस्थान से आने वाली लू के चलते तापमान भी ऊपर चढ़ गया। मौसम विज्ञानी महेश पलावत इसे ला-नीना इफेक्ट भी मानते हैं। उनका कहना है कि अलनीनो जिस वर्ष समाप्त होने लगता है, उस वर्ष का तापमान थोड़ा बढ़ जाता है।

केरल में मानसून का आज आगमन (Weather)

देश के दक्षिण एवं पूर्वोत्तर हिस्सों में समय से पहले ही मानसून का आगमन होने जा रहा है। आइएमडी द्वारा गुरुवार को किसी भी समय केरल में मानसून आने की घोषणा की जा सकती है। परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं। पहले 31 मई और एक जून के बीच में मानसून के आगमन का अनुमान व्यक्त किया गया था। अब 30 मई का संशोधित पूर्वानुमान जारी किया गया है। आइएमडी ने कहा है कि अंडमान निकोबार से मानसून तेजी से आगे बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें...

latest news

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Live Cricket Score

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Live Cricket Score

Latest Articles

error: Content is protected !!