Wednesday, February 21, 2024

Arunodaya Mandal सेवाभाव की मिसाल कायम कर रहे पद्मश्री डॉ. अरुणोदय मंडल, 160 किमी यात्रा करके पहुंचते हैं मरीजों तक

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Khabarwala 24 News New Delhi : Arunodaya Mandal 70 साल के पद्मश्री डॉ. अरुणोदय मंडल हर हफ्ते मरीजों को मुफ्त इलाज देकर सेवाभाव की मिसाल कायम कर रहे हैं। वह कोलकाता से 160 किमी का सफर तय करके सुंदरबन पहुंचते हैं, तब मरीजों के चेहरों पर मुस्कान आ जाती है, क्योंकि यहां आने वाले वह इकलौते डॉक्टर हैं। वहां वह ‘सुजन’ नाम का एक क्लिनिक चलाते हैं और हर साल सुंदरबन में 12,000 से अधिक मरीजों का मुफ्त इलाज करते हैं।

निःशुल्क सेवा कार्य (Arunodaya Mandal)

पद्मश्री डॉ. अरुणोदय मंडल ने साल 2000 में इस निःशुल्क सेवा का काम शुरू किया था। और पिछले 23 सालों से वह निरन्तर अपने काम के ज़रिए लोगों की मदद करते आ रहे हैं। 70 साल के डॉ अरुणोदय मंडल सुबह जल्दी उठते हैं और करीबन छह घंटे की यात्रा करके हिंगलगंज पहुंचते हैं। यहाँ सैकड़ों लोग उनकी प्रतीक्षा करते हैं।

सुंदरबन के सुजान (Arunodaya Mandal)

दरअसल, खुद एक पिछड़े इलाके से ताल्लुक रखने वाले डॉ. मंडल जरूरतमंदों की समस्या को बखूबी समझते हैं। कोलकाता के ‘नेशनल मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल’ से एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त करने के बाद, डॉ मंडल ने कई साल ‘डॉक्‍टर बी.सी. रॉय मेमोरियल हॉस्पिटल’ में काम किया।

मरीजों का इलाज (Arunodaya Mandal)

1980 में अपनी नौकरी छोड़कर अपने खुद के चैंबर से मरीजों का इलाज करना शुरू कर दिया। सुंदरबन के लोगों के लिए काम करने के पीछे की खास वजह है यही थी कि वह अपने ज्ञान के ज़रिए अपने समुदाय की मदद करना चाहते थे। सुंदरबन के सुजान नाम से मशहूर डॉ. अरुणोदय सही मायनो ने में इंसानियत के डॉक्टर के जो अपने काम से कइयों की जिंदगी सवार रहे हैं।

यह भी पढ़ें...

latest news

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Live Cricket Score

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Live Cricket Score

Latest Articles

error: Content is protected !!