Friday, April 19, 2024

Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Khabarwala 24 News Hapur : जनपद में डेंगू अपना कहर बरपाने लगा है। आए दिन नए मरीज सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को भी छह और मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। अब तक मिले मरीजों की संख्या बढ़कर अब 51 हो गई है। उधर शुक्रवार को जिले के 316 घरों में टीमों द्वारा सर्वे किया गया। जिनमें से कुल 173 घरों में मच्छरों का लार्वा पनपता हुआ पाया गया। सभी स्थानों से लार्वा को नष्ट करा दिया गया है।

डेंगू का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। हालत यह है कि सरकारी आंकड़ों में भले ही डेंगू के मरीजों की संख्या में फिलहाल 51 पहुंची हो। लेकिन निजी अस्पतालों में मरीजों की भरमार है। प्रत्येक अस्पताल में दस से 15 मरीज डेंगू की चपेट में आकर अपना उपचार करा रहे हैं। इसके अलावा वायरल बुखार का प्रकोप भी कम होने का नाम नहीं ले रहा है। हालत यह है कि निजी से लेकर सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में मरीजों की भरमार है। सीएचसी की 1200 मरीजों की ओपीडी में से करीब 550 मरीज वायरल बुखार के मिल रहे हैं। इनमें से जो मरीज संदिग्ध प्रतीत होता है उनके खून के नमूने लेकर जांच कराई जा रही है। प्रतिदिन करीब औसतन 40 मरीजों की जांच हो रही है। इनमें से पांच से छह मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो रही है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है।

सावधानी बरतने की आवश्यकता

जिला मलेरिया अधिकारी सतेंद्र कुमार ने बताया कि डेंगू का मच्छर हमेशा साफ पानी में पनपता है। इसलिए घर में इसको पैदा होने से रोकें। घर में कहीं भी खुले में पानी न जमा होने दें। कूलर, बाथरूम, किचन आदि में यदि पानी रुकता हो तो वहां पर दवाई का छिड़काव करें। कूलर का पानी तीन चार दिन बाद बदलते रहें। वहीं छत पर टूटे-फूटे डिब्बे, टायर, बर्तन, बोतलें आदि न जमा होने दें या फिर उन्हें उल्टा करके रखें।

इन रोगियों में हुई है डेंगू की पुष्टि

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शुक्रवार को गांव मतनावली के दो, गांव मोरपुर के एक, गांव जमालपुर के एक, गांव वैट के एक और गांव कनिया कल्याणपुर के एक मरीज में डेंगू की पुष्टि हुई है। सभी मरीजों का उपचार शुरू करा दिया गया है। सभी जगह दवाई का भी छिड़काव करा दिया गया है।

इनका रखें ध्यान

– प्लेटलेट्स का कम होना हमेशा डेंगू नहीं होता।
– चिकनगुनिया व डेंगू के लक्षण एक समान होते हैं। इसलिए जांच जरूर कराएं, जिससे बीमारी का पता चल सके।
– समय से अस्पताल पहुंचने पर डेंगू का सस्ता इलाज है और यह जानलेवा रूप धारण नहीं कर पाता।
– डेंगू मादा एडीज मच्छर के काटने से होता है। यह दिन में काटता है।

क्या हैं डेंगू के लक्षण

– तीन से 14 दिन बाद इसके लक्षण दिखने लगते हैं।
– ब्लड प्रेशर में गिरावट।
– सिर, मांसपेशियों, जोड़ों एवं आंखों के पिछले हिस्से में दर्द होना
– ठंड लगने के बाद अचानक तेज बुखार चढ़ना
– भूख न लगना, चिड़चिड़ापन महसूस करना व कमजोरी लगना।
– तेज बुखार जो तीन से सात दिन तक रह सकता है।

Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित Hapur डेंगू का कहर, छह और मरीज मिले संक्रमित

यह भी पढ़ें...

latest news

Join whatsapp channel Join Now
Folow Google News Join Now

Live Cricket Score

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Live Cricket Score

Latest Articles

error: Content is protected !!